Trikal Darshi Rajender Bhargav

Mobile +91 9872827907

कर्क और सिंह लग्न

1-कर्क और सिंह लग्न को छोड़कर 4 भाव मे मंगल बहुत खराब होता है ऐसा मंगल जीवन भर दुखी रखता है और दया रहित होता है जातक ,
2-अष्टमेष 8 भाव मे हो तो मारक ना होकर आयु की वृद्धि करता है
3-लग्नेश और 6 भाव के स्वामी का एक्स्चेंज हो तो जातक रोगी ना होकर स्वस्थ रहता है
लग्नेश बलबान होना चाहिए ,
4-किसी भी मांगलिक कुंडली मे मंगल के साथ गुरु या मंगल पर गुरु की दृष्टि होने पर भी मांगलिक दोष दूर
नही होता ,
5-यदि धनेश और लाभेश 6 भाव मे हो तो जातक जीवन भर ऋणी रहता है
6-लग्नेश और भाग्येश के रत्न के साथ धारण करने से लाभ होता है
7-मंगल की दृष्टि सप्तम भाव पर हो ऐसे जातक की पत्नी को मासिक धर्म मे अनियमितता रहती है
8- तृतीय भाव मे कर्क राशि का मंगल हो उसके छोटे भाई नही होता है
9- शुक्र व्यय भाव मे व्यय भाव के स्वामी के साथ हो तो महान धन दायक योग होता है
10-केतु या राहु या शनि मंगल व्यय भाव मे हो तो आर्थिक शंकट रहता है